क्यों हर माँ चावल की तुलना में रोटी खाने की सलाह देती है?

रोटी में चावल की तुलना में अधिक मात्रा में प्रोटीन होता है जो वजन कम करने के साथ-साथ मांसपेशियों को लाभ पहुंचाता है। चावल में फाइबर की मात्रा कम होती है जबकि रोटी में पर्याप्त मात्रा में फाइबर होता है जो हमारे शरीर के पाचन को बेहतर बनाता है।

चावल के मुकाबले रोटी के कई फायदे हैं। आप अपने भोजन में रोटी खा सकते हैं, कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपका लक्ष्य क्या है यह आपकी मदद करेगा और आपको पूरे दिन पर्याप्त ऊर्जा प्रदान करेगा। रोटी में पर्याप्त मात्रा में फाइबर होता है जो कब्ज को रोकने में मदद करता है और हमारे शरीर के पाचन में सुधार करता है जबकि चावल में फाइबर की मात्रा कम होती है।

eat roti than rice
 

जिंक और मिनरल्स की मौजूदगी के कारण रोटी आपकी त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है। अगर आप अपनी त्वचा की सेहत सुधारना चाहते हैं तो आप रोटी को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं और रोटी में अच्छी मात्रा में आयरन होता है जो हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन के स्तर को बनाए रखने में मदद करता है।

चावल में मौजूद कार्बोहाइड्रेट इतनी जल्दी पचते हैं और हमारी भूख के स्तर को बढ़ाते हैं जबकि रोटी में मौजूद कार्बोहाइड्रेट आपके पेट को भरा रखने में मदद करते हैं। चावल की तुलना में रोटी का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है क्योंकि इस रोटी की तुलना में हमारे शरीर में बहुत धीरे-धीरे पचता है।

 

रोटी और चावल के पोषण संबंधी तथ्य

अगर हम चावल और रोटी को समान मात्रा में लेते हैं तो यहाँ रोटी और चावल दोनों का पोषण समान है और यहाँ चावल और रोटी के पोषक तत्व हैं।

100 ग्राम रोटी में 264 कैलोरी, 1.3 ग्राम वसा, 0 मिलीग्राम कोलेस्ट्रॉल, 486 मिलीग्राम सोडियम, 55.81 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 9.61 ग्राम प्रोटीन और सभी आवश्यक विटामिन होते हैं।

100 ग्राम चावल में 129 कैलोरी, 0.28 ग्राम वसा, 0 मिलीग्राम कोलेस्ट्रॉल, 27.9 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 2.66 ग्राम प्रोटीन, और विटामिन ए, सी और कैल्शियम होता है।

रोटी और चावल में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा अधिक होती है और अगर आपका लक्ष्य वजन कम करना है तो आप रोजाना चावल या रोटी का सेवन नियंत्रित करते हैं और वजन घटाने के लिए हमेशा रोटी पसंद करते हैं क्योंकि रोटी हमारे शरीर में धीरे-धीरे पचती है और पूरे दिन ऊर्जा प्रदान करती है।

फाइबर हमारे शरीर में पाचन को बेहतर बनाता है और हमारे पेट को आरामदायक बनाता है। रोटी में चावल की तुलना में अधिक मात्रा में फाइबर होता है। सोडियम हमारे शरीर में पानी को बनाए रखता है और यदि आपका प्राथमिक लक्ष्य वजन कम करना है तो अपने शरीर में सोडियम का सेवन कम करें। यदि आप इतना सोडियम ले रहे हैं तो आपका शरीर पानी रखता है और आपको फूला हुआ बनाता है।

 

निष्कर्ष

➤ यदि आपका लक्ष्य वजन कम करना है तो चावल के ऊपर रोटी पसंद करें क्योंकि रोटी में अधिक मात्रा में प्रोटीन और वसा की कम मात्रा होती है और रोटी का ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत कम होता है क्योंकि यह रोटी हमारे शरीर में बहुत धीरे-धीरे पचती है। रोटी की कीमत काफी सस्ती है, इसलिए हर कोई इसे खरीद सकता है और अपने आहार में शामिल कर सकता है।

➤ पहली बात यह है कि वजन कम करने के लिए मायने रखता है आपका दैनिक कैलोरी सेवन है तो द्वितीयक मामला आपका आहार है और फिर वर्कआउट करें यदि आप सभी उपाय कर रहे हैं तो आपको निश्चित रूप से परिणाम मिलेंगे। अधिक मात्रा में प्रोटीन युक्त भोजन खाएं जैसे- दूध, अंडे, मटन, और चिकन, और हमेशा पानी पीना चाहिए इससे पहले कि आप अपने भूख के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करें। हमेशा मांसाहारी प्रोटीन स्रोत जैसे अंडे और चिकन पसंद करते हैं जिसमें सभी आवश्यक अमीनो एसिड होते हैं।

➤ सबसे पहले अपने कैलोरी सेवन की गणना करें और फिर इसे 6 भोजन में विभाजित करें और अपने भोजन को ठीक से खाएं। आप मट्ठा प्रोटीन खरीद सकते हैं जो आपके प्रोटीन सेवन को पूरा करने में मदद करता है और पानी के साथ कसरत के बाद आप मट्ठा प्रोटीन ले सकते हैं।

➤ इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपका लक्ष्य क्या है जैसे मांसपेशी लाभ, वसा की हानि, केवल एक चीज बात कैलोरी है। कैलोरी आपके लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद करती है। यदि आपका लक्ष्य वजन कम करना है तो सबसे पहले कैलोरी कैलकुलेटर द्वारा अपने दैनिक सेवन कैलोरी की गणना करें। यदि आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो अपने रखरखाव कैलोरी में 300-500 कैलोरी का दोष करें और यदि आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो अपने रखरखाव कैलोरी में 600-800 कैलोरी जोड़ें।

➤ प्रोटीन वजन कम करने के साथ-साथ वजन बढ़ाने में भी बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है लेकिन, इसके साथ आपको संतुलित मात्रा में कार्बोहाइड्रेट और वसा की भी आवश्यकता होती है। मांसपेशियों को मुख्य प्रोटीन से बनाया जाता है सुनिश्चित करें कि आप अपने शरीर को मांसपेशियों के साथ-साथ वसूली के लिए पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन प्रदान करते हैं।

➤ कार्बोहाइड्रेट की उच्च गुणवत्ता वाला स्रोत खाएं जैसे- रोटी जो काफी सस्ती और बहुत फायदेमंद होती है। मांसपेशियों के लाभ में कार्बोहाइड्रेट एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है यह आपकी मांसपेशियों के आकार को बढ़ाने में मदद करता है।

➤ वजन कम करने के लिए वेट ट्रेनिंग बहुत जरूरी है। वेट ट्रेनिंग से कैलोरी बर्न करने में मदद मिलती है और तेजी से वजन कम होता है। आप एक सप्ताह में 3-4 बार वेट ट्रेनिंग कर सकते हैं। आप हफ्ते में 3-4 बार जिम जा सकते हैं, उचित वर्कआउट न करें कि आप भारी वजन उठा सकते हैं इस शो को करने से आप घायल भी हो सकते हैं।

Post a Comment

0 Comments